Uttar pradeshप्रदेश के व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) से आज जर्मन प्रतिनिधि मण्डल ने की मुलाकात

Statement Today अब्दुल बासिद/ब्यूरो मुख्यालय: लखनऊ, प्रदेश के व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्य मंत्री (स्वतन्त्र प्रभार), कपिल देव अग्रवाल से आज यहां विधान सभा नवीन भवन स्थित उनके कार्यालय कक्ष में जर्मन प्रतिनिधि मण्डल ने मुलाकात की। मुलाकात के दौरान जर्मन प्रतिनिधिमण्डल के प्रतिनिधियों जेंस काईजर व जोरेगन मनिके ने जर्मनी के वाकेशनल सिस्टम से मंत्री को अवगत कराया तथा कहा कि प्रदेश की युवा आबादी को उद्योगों की मांग के अनुरुप तैयार कियो...
Statement Today
अब्दुल बासिद/ब्यूरो मुख्यालय: लखनऊ, प्रदेश के व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्य मंत्री (स्वतन्त्र प्रभार), कपिल देव अग्रवाल से आज यहां विधान सभा नवीन भवन स्थित उनके कार्यालय कक्ष में जर्मन प्रतिनिधि मण्डल ने मुलाकात की। मुलाकात के दौरान जर्मन प्रतिनिधिमण्डल के प्रतिनिधियों जेंस काईजर व जोरेगन मनिके ने जर्मनी के वाकेशनल सिस्टम से मंत्री को अवगत कराया तथा कहा कि प्रदेश की युवा आबादी को उद्योगों की मांग के अनुरुप तैयार कियो जाने हेतु यह आवश्यक है कि आई0टी0आई0 द्वारा संचालित किये जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रमों को उद्योगों की मंशा के अनुरुप संचालित किये जाने की आवश्यकता है तथा इस हेतु जर्मन सरकार प्रदेश सरकार को तकनीकी व वित्तीय सहयोग प्रदान करना चाहती है। 
मुलाकात में विभिन्न विषयों जैसे उद्योगों की वास्तविक मांग के अनुरुप प्रशिक्षण कार्यक्रमों के पाठ्यक्रमों का उच्चीकरण, आई0टी0आई0 से इण्डस्ट्री रेडी छात्र तैयार करना, काॅमन फैसीलीटेशन व फैक्लटी सेन्टर व प्रशिक्षण हेतु औद्योगिक क्लस्टरों की स्थापना करने पर विस्तृत चर्चा की गई। 
व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री ने जर्मन प्रतिनिधिमण्डल से कहा कि हमारी सरकार का एक ही लक्ष्य है कि युवाओं को आधुनिक तकनीकी का सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षण प्रदान किया जाये। इस लक्ष्य की पूर्ति में जो भी अवरोध है, उन्हे शीर्ष प्राथमिकता पर लेकर दूर किया जायेगा। मंत्री जी ने यह भी कहा कि हमारी सरकार यह प्रयास कर रही है कि प्रदेश के युवाओं को अन्र्तराष्ट्रीय मानदंडों के अनुरुप प्रशिक्षित कर उन्हे रोजगार के लिये विदेशों में भेजा जाये, जिससे देश को अधिक से अधिक विदेशी मुद्रा प्राप्त और आर्थिक विकास में कौशल विकास का बड़ा हिस्सा हो।
कपिल देव ने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि जर्मन सरकार से जैसे ही प्रस्ताव प्राप्त हो उस पर 15 दिनों में अध्ययन कर आख्या सहित अपनी संस्तुतियां उनके सम्मुख प्रस्तुत की जायें, जिससे कि प्रस्ताव को अंतिम रुप देकर कर उसे क्रियान्वित किया जाये। 
इस मौके पर एस0 राधा चौहान, प्रमुख सचिव, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग, कुणाल सिल्कू, मिशन निदेशक, उ0प्र0 कौशल विकास मिशन/निदेशक, प्रशिक्षण एवं सेवायोजन, उ0प्र0, तथा मनमोहन चौधरी, विशेष सचिव, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग व अन्य अधिकारियों ने प्रतिभाग किया।

One comment

  • ปั้มไลค์

    September 5, 2019 at 10:44 pm

    Like!! I blog quite often and I genuinely thank you for your information. The article has truly peaked my interest.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *