Lucknowछात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति प्रदान करना सरकार की प्राथमिकता करने – रमापति शास्त्री

Statement Today अब्दुल बासिद/ब्यूरो मुख्यालय: लखनऊ,प्रदेश के समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री ने कहा कि वर्तमान सरकार की प्राथमिकता मे है कि सभी पात्र छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति प्रदान करायी जायेगी। छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति प्रदान करने में किसी प्रकार की समस्या नही होने दी जायेगी। पात्र सभी छात्र एवं छात्राओं को छात्रवृत्ति योजना से लाभान्वित कराया जायेगा। जनपद लखनऊ के शिक्षण संस्थानों में अध्ययनरत व आनलाइन आवेदन करने वाले अनुसूचित...
Statement Today
अब्दुल बासिद/ब्यूरो मुख्यालय: लखनऊ,प्रदेश के समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री ने कहा कि वर्तमान सरकार की प्राथमिकता मे है कि सभी पात्र छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति प्रदान करायी जायेगी। छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति प्रदान करने में किसी प्रकार की समस्या नही होने दी जायेगी। पात्र सभी छात्र एवं छात्राओं को छात्रवृत्ति योजना से लाभान्वित कराया जायेगा। जनपद लखनऊ के शिक्षण संस्थानों में अध्ययनरत व आनलाइन आवेदन करने वाले अनुसूचित जाति/जनजाति, अल्पसंख्यक वर्ग, अन्य पिछडा वर्ग तथा सामान्य वर्ग के 50 नवीनीकरण छात्र एवं छात्राओं को प्रमाण-पत्र का वितरण किया गया।
रमापति शास्त्री ने आज यहाॅं समाज कल्याण निदेशालय लखनऊ में 02 अक्टूबर राष्ट््रपिता महात्मा गाॅधी जी की 150वीं जयन्ती के शुभ अवसर पर राष्ट््रपिता महात्मा गाॅधी जी व पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न लाल बहादुर शास्त्री जी के चित्र पर माल्यार्पण करने के उपरान्त छात्र एवं छात्राओं को छात्रवृत्ति स्वीकृति प्रमाण-पत्र वितरण के अवसर पर यह विचार व्यक्त कर रहे थे। रमापति शास्त्री ने राष्ट््रपिता महात्मागाॅधी जी की 150 वीं जयन्त्री व पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न लाल बहादुर शास्त्री जी की जयन्ती के अवसर पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाये दी है। उन्होने छात्रवृत्ति प्राप्त करने वाले सभी छात्र एवं छात्राओं को बधाई दी और कहा कि छात्र एवं छात्रायें मेहनत से पढाई करे, पढाई में किसी प्रकार की ढिलाई नहीं बरतंे। रमापति शास्त्री ने बताया कि अनुसूचित जाति/जनजाति दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना में वार्षिक आय सीमा 2.50 लाख रूपयें तक तथा सामान्य वर्ग, पिछडा वर्ग व अल्पसंख्यक वर्ग के दशमोत्तर छात्रवृति एवं पिछडा वर्ग पूर्वदशम योजना में 2.00लाख रूपयें तक की वार्षिक आय सीमा के माता-पिता के बच्चों को छात्रवृत्ति की सुविधा प्रदान की जा रही है।
समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री ने बताया कि वर्ष 2019-20 में आज 02 अक्टूबर,2019 को अनुसूचित जाति पूर्वदशम छात्रवृत्ति से 53570, सामान्य वर्ग पूर्वदशम छात्रवृत्ति से 16260, अनुसूचित जाति दशमोत्तर छात्रवृत्ति से 39951, सामान्यवर्ग दशमोत्तर छात्रवृत्ति से 25140, अनुसूचित जनजाति पूर्वदशम छात्रवृत्ति से 116, अनुसूचित जनजाति दशमोत्तर छात्रवृत्ति से 238, पिछडावर्ग पूर्वदशम छात्रवृत्ति से 112035, पिछडा वर्ग दशमोत्तर छात्रवृत्ति से 48444, अल्पसंख्यक वर्ग पूर्वदशम छात्रवृत्ति से 13461, अल्पसंख्यक वर्ग दशमोत्तर छात्रवृत्ति से 24759 छात्र एवं छात्राओं सहित कुल 333974 छात्र एवं छात्राओं को छात्रवृत्ति से लाभन्वित किया जा रहा है।
 
इस अवसर पर अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नन्द गोपाल नन्दी ने कहा कि आज 02 अक्टूबर राष्ट््रपिता महात्मा गाॅधी जी की जयन्ती के अवसर पर लखनऊ के सभी वार्डाे में स्वच्छता अभियान चलाया गया। उन्होने कहा कि वर्तमान सरकार स्वास्थ्य, शिक्षा, सडक, पेयजल सहित आदि विभिन्न योजनायें संचालित कर आम जनमानस को लाभान्वित करने का काम कर रही है। उन्होने कहा कि इस अवसर पर अल्पसंख्यक वर्ग पूर्वदशम एवं दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना से 38220 छात्र एवं छात्राओं को छात्रवृत्ति से लाभान्वित किया जा रहा है।
पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गाॅंधी जी की 150 वीं जयन्ती के अवसर पर पिछड़ा वर्ग पूर्वदशम एवं दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना के तहत 160479 छात्र एवं छात्राओं को लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होने छात्रवृत्ति प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रदान करने में प्रदेश सरकार गम्भीर है और छात्र-छात्राओं की समस्याओं के निराकरण कराने का हर सम्भव प्रयास किया जायेगा।
राज्यमंत्री समाज कल्याण डाॅ0 जी0एस0 धर्मेश ने छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए कहा कि छात्र-छात्रायें पूरे मनोयोग से पढाई करेगे तो सफालता जरूर मिलेगी। उन्होने कहा कि गाॅधी जयन्ती के अवसर पर 333974 छात्र एवं छात्राओं को छात्रवृत्ति से लाभन्वित किया जा रहा है।
इस अवसर पर प्रमुख सचिव समाज कल्याण मनोज सिंह ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में अनुसूचित जाति एवं सामान्य वर्ग के 376198 छात्रों के छात्रवृत्ति आवेदन पत्र शिक्षण संस्था से अग्रसारित हुए है जिसमें 184278 छात्रों के डाटा आय, जाति, बैंक खाता संख्या आदि छात्रों द्वारा परिवर्तित कर दिये जाने के कारण सन्देहास्पद श्रेणी में चले गये जिनकी विस्तृत स्कूटनी के उपरन्त धनराशि प्रदान की जायेगी। उन्होने बताया कि 191920 छात्रों का डाटा सही पाया गया, सही डाटा मे से 156435 छात्रों के डाटा को पी0एफ0एम0एस0 द्वारा बैंको के माध्यम से खाता वैलीडेशन करते हुए सही पाया गया। पी0एफ0एम0एस0 से प्राप्त सही डाटा में से 134921 छात्रों के डाटा को जनपदीय छात्रवृत्ति स्वीकृति समिति द्वारा स्वीकृति प्रदान की गयी है। उन्होने बताया कि स्वीकृत डाटा के सभी 134921 छात्रों को धनराशि का भुगतान कर दिया गया है। इस प्रकार शिक्षण संस्थाओं से अग्रसारित डाटा के सापेक्ष 36 प्रतिशत छात्रों को धनराशि का भुगतान किया गया है।
इस अवसर पर निदेशक समाज कल्याण बाल कृष्ण त्रिपाठी, अपर निदेशक समाज कल्याण डाॅ0 रजनीश चन्द, सयुक्त निदेशक समाज कल्याण पी0के0त्रिपाठी, उप निदेशक समाज कल्याण जयराम, एस0के0राय, कष्णा प्रसाद सहित अन्य सम्बधित अधिकारी आदि उपस्थित थे।

313 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *